[]
Home » News » National News » लाल किले से पीएम मोदी का बड़ा ऐलान
लाल किले से पीएम मोदी का बड़ा ऐलान

लाल किले से पीएम मोदी का बड़ा ऐलान

Spread the love

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्ताँ हमारा ……..

लाल किले से पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, अब तीनों सेनाएं सीडीएस के अंतर्गत आएंगी

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सपनों को पंख लगें, यह हम सबकी जिम्मेदारी है।’ मोदी ने कहा, ‘जो लोग अनुच्छेद 370 की वकालत कर रहे हैं उनसे देश पूछ रहा है कि अगर यह इतना महत्वपूर्ण था तो इसे आप लोगों ने स्थायी क्यों नहीं किया, अस्थायी क्यों बनाए रखा?’

नई दिल्ली: आज देश 73 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है हुए पूरे देश में सांस्कृतिक कार्यकर्मों का आयोजन किया जा रहा है , किन्तु एक ऐसा भी राष्ट्र है जहाँ मातम है सन्नाटा पसरा है , उस राज्य की अवाम तिरंगे को फेराने की तक़रीब में शामिल नहीं दिख रहे हैं ।

आज प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले से अपने सम्बोधन के दौरान ऐलान किया है कि तीनों सेनाओं में बेहतर तालमेल बनाने के लिए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) बनेगा। तीनों सेनाएं अब सीडीएस के अंतर्गत आएंगी। आपको बता दें कि कारगिल युद्ध के बाद देश की सुरक्षा व्यवस्था में खामियों का पता लगाने के लिए गठित समिति ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ के नियुक्ति की पैरवी की थी।

 

इससे पहले जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कई प्रावधान हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के सरकार के कदम की पृष्ठभूमि पर अपनी बात रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ‘हम समस्यों को न टालते हैं, न पालते हैं और अब समस्याओं को टालने और पालने का समय नहीं है , मोदी ने कहा ‘हम समस्याओं को टालते भी नहीं और पालते भी नहीं हैं।अब न टालने का समय है और न ही पालने का समय है।

“लेकिन भले PM साहब समस्याओं को न पालने की बात कर रहे हों मगर 370 हटाए जाने के बाद पूरे देश में जिस प्रकार का माहौल बना है उससे उससे एक नई समस्या के पनपने का खतरा महसूस किया जा रहा है ।जिसपर विशेषज्ञ अपनी राये रखते हुए इसको देख के लिए खतरनाक बता रहे हैं ।एक प्राइवेट DIGITAL चेंनल को इंटरव्यू देते हुए पूर्व RAW के अध्यक्ष ने कहा की 370 के बाद देश के हालात बिगड़ सकते ऐसा मेरा मानना है , नहीं भी होसकता ।

 

लाखों नौकरियां ख़त्म हो गई हैं , कई बड़ी सरकारी तथा अर्ध सरकारी कंपनियां बंद होगी हैं ।विदेशी पूँजी निवेश भी न होने के बराबर ही हुआ है , ऐसे में मोदी जी के सभी सपने मुंगेरी लाल के हसीं सपने जैसे लगते हैं , हालाँकि हमारी मनो कामना और प्रार्थना है देश में सब कुछ ठीक रहे , देश में शान्ति , सद्भाव और समृद्धि आये , ख़ौफ़ और नफरत का माहौल ख़त्म हो , सभी देश वासियों में आपस में सद्भाव और सहयोग बढे । एक्सक्लूसिव TOP News Group

‘ उन्होंने कहा, ‘देशवासियों ने जो काम हमें दिया है , हम उसे पूरा कर रहे हैं। सरकार बनने के 10 सप्ताह के अंदर संसद के दोनों सदनों से अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाने और तीन तलाक़ यानी मुस्लिम महिला संरक्षण बिल बनाने से मुस्लिम महिलाओं को आज़ाद करने और आतंकवाद के खिलाफ मजबूती से लड़ाई लड़ने के लिए आतंकवाद विरोधी कानून में संशोधन बिल का भी अनुमोदन किया ।

 

Courtesy GOURAB DAS

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘जो लोग अनुच्छेद 370 की वकालत कर रहे हैं उनसे देश पूछ रहा है कि अगर यह इतना महत्वपूर्ण था तो इसे आप लोगों ने स्थायी क्यों नहीं किया, अस्थायी क्यों बनाए रखा?प्रधान मंत्री ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सपनों को पंख लगें, यह हम सबकी जिम्मेदारी है।’ अब पंख लगेंगे या पंख कतरे जाएंगे और परिंदा क़फ़स में फड़ फड़ायेगा यह देखना बाक़ी है ।

प्रधानमंत्री मोदी ने देश में आबादी नियंत्रण के लिये छोटे परिवार पर जोर दिया और कहा कि आबादी समृद्ध हो, शिक्षित हो तो देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने कहा कि जीएसटी ने ‘एक देश, एक कर‘ के सपने को सच किया, भारत ने ऊर्जा के क्षेत्र में एक देश, एक ग्रिड की उपलब्धि भी हासिल की है ।

 

मोदी ने कहा कि अब चर्चा एक देश एक चुनाव को लेकर है, यह देश को महान बनाने के लिए अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार और कालाधन समाप्त करने के लिये उठाये गये हर कदम स्वागत योग्य हैं, इन समस्याओं के कारण देश को पिछले 70 साल में काफी नुकसान हुआ, हम हमेशा ईमानदारी को पुरस्कृत करेंगे। मोदी ने कहा, ‘आज देश में 21वीं सदी की आवश्यकता के मुताबिक आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण हो रहा है। देश के बुनियादी ढांचे के निर्माण पर 100 लाख करोड़ रुपए का निवेश करने का फैसला किया गया है।’

मोदी जी के अभिभाषण में सपनो का देश दिखाया गया जो पिछले कार्यकाल में भी दिखाया गया था किन्तु उनका सपनो वाला फार्मूला सफल रहा ,मोदी जी अपने भाषणों में पिछले 70 साल को कोसते हुए यह भूल जाते हैं की इसमें उनका भी कार्यकाल है वाजपई जी का भी कार्यकाल आता है ।मोदी जी ने कहा हम हमेशा ईमानदारी को पुरस्कृत करेंगे , लेकिन वो कभी ईमानदारी को परिभाषित नहीं करते हैं , की आखिर ईमानदारी है क्या ?

प्रधानमंत्री से लेकर वित्त मंत्री तक सभी देश को अगले पांच साल में ‘फाइव ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी’ यानी 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने की बात कर रहे हैं। हालांकि अमेरिका, चीन सहित कई देश काफी कम समय में यह लक्ष्य हासिल कर चुके हैं। जबकि आज देश अर्थवयवस्था के ऐतबार से सबसे निचले पायदान पर आ चुका है ।

लाखों नौकरियां ख़त्म हो गई हैं , कई बड़ी सरकारी तथा अर्ध सरकारी कंपनियां बंद होगी हैं ।विदेशी पूँजी निवेश भी न होने के बराबर ही हुआ है , ऐसे में मोदी जी के सभी सपने मुंगेरी लाल के हसीं सपने जैसे लगते हैं , हालाँकि हमारी मनो कामना और प्रार्थना है देश में सब कुछ ठीक रहे , देश में शान्ति , सद्भाव और समृद्धि आये , ख़ौफ़ और नफरत का माहौल ख़त्म हो , सभी देश वासियों में आपस में सद्भाव और सहयोग बढे । एक्सक्लूसिव TOP News Group

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top
error

Enjoy our portal? Please spread the word :)