[t4b-ticker]
Home » Editorial & Articles » गोली तो आपको ही चूसनी है ,भाजपा के ‘अच्छे दिन’ कांग्रेस के ‘सच्चे दिन’ 

गोली तो आपको ही चूसनी है ,भाजपा के ‘अच्छे दिन’ कांग्रेस के ‘सच्चे दिन’ 

Spread the love

भाजपा के ‘अच्छे दिन’ कांग्रेस के ‘सच्चे दिन’  

नई दिल्ली. मोदी लहर को शक्ति प्रदान करने वाले नारे ” अच्छे दिन ” भले ५ वर्षों के लिए भाजपा नेताओं को सत्ता के सुख भोगने का अवसर देगया पर जनता ने जो बुरे दिन देखे वो देश के सामने हैं , इस बीच कांग्रेस शायद सही समय की प्रतीक्षा कररही थी या मूकदर्शक बनी हुयी थी .लेकिन अब कांग्रेस ने भी मिशन 2019 के लिए अपना नारा ढूंढ लिया है । कांग्रेस , राहुल गांधी की अगुआई में ‘सच्चे दिन’ लाने का नारा देने जा रही है।

 

जाने-माने पत्रकार व पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने 27 नवंबर 2017 को कहा था कि झूठ नरेंद्र मोदी सरकार की पहचान है और यह नौकरियां पैदा करने जैसे कई वादों को पूरा करने में विफल रही है.

‘टाइम्स लिट फेस्ट’ में भाग लेते हुए शौरी ने कहा कि वह कई उदाहरण दे सकते हैं जिसमें अखबारों में पूरे पन्ने का विज्ञापन देकर ‘सरकार ने सिर्फ मुद्रा योजना द्वारा साढ़े पांच करोड़ से ज्यादा नौकरियां पैदा करने का आंकड़ा दिया है.’ उन्होंने कहा, “लेकिन, हमें इस पर आश्चर्यचकित नहीं होना चाहिए..झूठ सरकार की पहचान बन चुका है.” (27 Nov. 2017 all leading News organisations )

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार ‘सच्चे दिन आने वाले हैं’ का जिंगल तैयार हो रहा है। यह पिछले चुनाव के भाजपा के गीत की पैरोडी नहीं होगा। यह उससे अलग होगा। नए नारे को बल देने के लिए पार्टी कई लघु फिल्में भी बनवा रही है। इनमें भाजपा, खासतौर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयानों के ‘झूठ’ को उजागर किया जाएगा।

पार्टी का सोशल मीडिया देख रहीं दिव्या रम्या स्पंदना की टीम इस काम में सक्रिय है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिछले चार साल के भाषणों की 800 से अधिक क्लिपिंग्स सुनकर उनका तथ्यों से मिलान किया जाएगा .

प्रिंटेड सामग्री के लिए कांग्रेस पिछले चुनाव में भाजपा के उन वादों की लिस्ट तैयार कर रही है, जो पूरे नहीं हुए। एक रणनीतिकार ने कहा कि ऐसे 200 से अधिक झूठे वादों की फेहरिस्त तैयार है। इसमें 20 बड़े मुद्दों के 10-10 ‘झूठे वादे’ शामिल किए गए हैं।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला कहते हैं कि साफ रणनीति है कि सच का प्रसार करना है। हम प्रोपगेंडा मैसेज कभी नहीं फैलाएंगे जिस तरह का दुष्प्रचार हमारी प्रतिद्वंद्वी पार्टियां करती हैं। इसीलिए हमने अपने कैंपेन का नाम ही “सच भारत” रखा है।

‘अबकी बार’ के जवाब में ‘अब जाओ मोदी सरकार’ जैसे नारे का चलन लाने की तैयारी है .
‘सच्चे दिन’ की मेन थीम को कांग्रेस जिन दूसरे स्लोगंस से बल देगी वह 2014 की याद ताजा कराते हैं। ये नारे ‘अब जाओ मोदी सरकार’ की टोन पर हैं।

मसलन- बहुत बढ़ी महंगाई की मार-अब जाओ मोदी सरकार, बहुत बढ़े महिलाओं पर अत्याचार-अब जाओ मोदी सरकार, बहुत बढ़े भगौड़ों के भ्रष्टाचार-अब जाओ मोदी सरकार।

मोदी सरकार के भ्रष्टाचार पर A टू Z

आपने भले ही अपने बचपन में A से Apple , B से Ball , C से Cat इत्यादि पढ़ा होगा ,लेकिन मोदी सरकार में जहाँ करेंसी बदली , सड़कों के नाम बदले और रेलवे स्टेशनों के नाम बदले और अब तो मुसलमानो के भी नाम बदलने का फरमान जारी हो गया है ऐसे में A B C D के words भी बदलना कोई अचम्भा नहीं होगा .

बीजेपी को ‘भ्रष्टाचारी जनता पार्टी’ बताने के लिए ‘भ्रष्टाचार’ का ए-टू-जेड बनाया है।
आप भी सुनलीजिये ……….

जैसे, ए-अडानी पावर स्कैम, बी-बाल्को स्कैम, सी-चिक्की स्कैम, डी-दाल स्कैम, ई-अर्थ क्वेक रिलीफ फंड स्कैम, एफ-फिशरीज स्कैम, जी-जीएसपीएस स्कैम, आई-इंडिगो रिफाइनरी स्कैम, जे-जयशाह स्कैम, के-केरल मेडिकल स्कैम, एल-ललित मोदी स्कैम, एम-मैट्रो रेल स्कैम, एन-नीरव मोदी स्कैम, ओ-आॅपरेशन वेस्टएंड, पी-पीडीएस छत्तीसगढ़ स्कैम क्यू-क्वेरी स्कैम, आर-राफेल स्कैम, एस-एसएससी स्कैम, टी-टेंडर स्कैम,यू-यूटीआई स्कैम, वी-व्यापम, डब्ल्यू-वेट मेजरमेंट इंस्पेक्टर स्कैम, एक्स-एक्सरे टैक्निशियन स्कैम, वाई-येदिरप्पा स्कैम, जेड-जुबिन स्मृति ईरानी लैंड स्कैम

अल्फाबेट की इस टेबल को आप कांग्रेस की उपलब्धि का नाम दें या मोदी सरकार के कारनामों की सूची ,यह आप ही पर निर्भर करता है , चूंकि अच्छे दिन की लॉलीपॉप भी आपने चूसी थी और सच्चे दिन की गोली भी आम आदमी को ही को चूसनी है , हमारा काम तो बस आपको आगाह करदेना है .

मुंगेरी लाल के हसीन सपने अब पुराने लगने लगे हैं , आजकल देश की जनता को मोदी शाह के सपने दिखाए जा रहे हैं . जैसे हाल ही में आयुष्मान स्वास्थ्य योजना , हर एक के खाते में 15 लाख रूपये ,हर वर्ष 2 करोड़ नौकरियों और काला धन वापसी जैसे सपने ताज़ा हैं .

मगर याद रहे भले उपरोक्त कोई वादा मोदी सरकार पूरा न कर पाई हो या कोई सपना साकार न करा पाई हो किन्तु हमारे देश की महान जनता पाकिस्तान पर क़ब्ज़ा करने के नाम पर या एक के बदले १० का सर लाने के नाम पर मोदी जी को ही महान मानती है और उनपर भरोसा करती है भले नतीजा जो भी हो .

राम मंदिर और हिंदुत्व के नाम पर भी यह प्रोपेगंडा तो किया ही जासकता है की मोदी जी ही हिंदुत्व देश में लासकते हैं , अच्छा देश में हिंदुत्व को खतरा कहाँ है ,भले हमारा देश लोकतांत्रिक देश हो किन्तु धर्म के नाम पर हिन्दू भाइयों को अधिकार उपलब्ध हैं वो दुसरे धर्मों के मानने वालों को नहीं , इसकी कई मिसाल मौजूद हैं .

इस सबके बावजूद सच्चाई यह है की देश में हिन्दू धर्म से दुसरे धर्मों में परिवर्तन का ग्राफ सबसे ज़्यादा मोदी सरकार में बढ़ा है .दुसरे सबसे ज़्यादा हमारे फौजियों के सर भी मोदी जी के ही कर्येकाल में काटे गए हैं . देश में लघु उद्योग सबसे ज़्यादा इसी कार्यकाल में बंद हुए हैं .मोब lynching की सबसे ज़्यादा घटनाएं इसी दौर में हुई हैं , दलित और अल्पसंख्यकों पर प्रतारणा भी इसी कार्यकाल में बढ़ी हैं यह सब आंकड़े नेट पर मौजूद हैं आप भी देख सकते हैं. Editor’s desk

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top
error

Enjoy our portal? Please spread the word :)