[t4b-ticker]
Home » Events » प्रधानमंत्री के घर के घेराव की चेतावनी

प्रधानमंत्री के घर के घेराव की चेतावनी

Spread the love

21 जनवरीए 2018

प्रेस विज्ञप्ति


प्रधानमंत्री के घर के घेराव की चेतावनी

ठेका कर्मियों का एनटीपीसी मुख्यालय पर प्रदर्शन

21 जनवरी// नई दिल्लीः बदरपुर थर्मल पावर स्टेशन ;बीटीपीएसद्ध के 300 से ज्यादा ठेकाकर्मी अपनी मांगों को लेकर निजामुद्दीन हुमायूं के मकबरे से लेकर एनटीपीसी मुख्यालय तक रैली निकाली। यह रैलीए लोधी रोडए सीजीओ कांप्लेक्स से गुजरते स्कोप बिल्डिंग स्थित एनटीपीसी मुख्यालय के सामने प्रदर्शन में बदल गयी।

यह कार्यक्रम कांट्रेक्ट लेबर आॅफ बीटीपीएस के तत्वाधान में हुआ।विदित रहे कि इस संस्थान को दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के नाम पर बंद कर दिया गया है। 15 अक्तूबर 2018 तक 600 ठेके मजदूर काम कर रहे थे। अब काम को समेटने के लिए सिर्फ 70 ठेकाकर्मी बचे हैं। बाकी ठेकाकर्मी बाहर हैं। ये ठेकाकर्मी सालों.सालों से काम कर रहे थेए बेशक ठेकेदार हर साल नया होता था। इस संस्थान को बंद करने से पहले ठेकाकर्मियों को कोई सूचना नहीं दी गई।

इन कर्मचारियों की मांग है कि संस्थान को बंद करने का बाकायदा नोटिस दिया जाएए पर्याप्त मुआवजा दिया जाएए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली क्षेत्र में वैकल्पिक रोजगार देकर उनका पुनर्वास किया जाएए सभी देय मजदूरी और अन्य बकाया राशि का भुगतान तुरंत किया जाए और सभी ठेकाकर्मियों को काम का अनुभव प्रमाणपत्र दिया जाए।

उपरोक्त मांगों को लेकरए ये ठेकाकर्मी बीते तीन महीने से लगातार संघर्ष कर रहे हैं।मजदूर एकता कमेटी की तरफ से बिरजू नायक ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को बंद कर रही है। इनकी जमीन और संसाधन बड़े.बड़े उद्योगपतियों को सौंप रही हैं। प्रदूषण सिर्फ बहाना है। एनटीपीसी की कीमती जमीन को हड़पना है। जैसा कि दिल्ली क्लाथ मिल्स ,डीसीएम की जमीन पर आज रियल एस्टेट खड़ी हैं।

एडवोकेट ओपी गुप्ता ने बताया कि सार्वजनिक उपक्रमों में स्थायी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति या मृत्यु के उपरांत खाली हुए पदों पर स्थायी भर्ती नहीं हो रही है। खाली पदों पर ठेका श्रमिकों से भरकर काम करवाया जा रहा है। एनटीपीसी में बारहमासी काम को ठेका कर्मचारियों से करवाया जाता है। न्यूनतम वेतन पर कोई छुट्टी और सामाजिक लाभ दिए बिनाए इन कर्मचारियों का शोषण ठेकेदार और सरकारए दोनों मिलकर कर रहे हैं।

प्रदर्शनकारियों के बीच एनटीपीसी के मानव संसाधन मैनेजर सहित चेयरमैन के सचिव पहुंचेए मांगों पर विचार करने का आश्वासन देने के बाद प्रदर्शन को समाप्त हुआ।

मजदूरों के नेता पंकज कुमार ने कहा कि अगर एनटीपीसी प्रबंधक हमारी मांगों पर गौर नहीं करेगी तो आने वाले दिनों में प्रधानमंत्री के घर का घेराव किया जाएगा।

विस्तृत जानकारी हेतु

बिरजू नायक 9818575435

ओपी गुप्ता 9971036133

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top
error

Enjoy our portal? Please spread the word :)