[t4b-ticker]
Home » News » National News » ‘आयुष्मान भारत’ , सरकारी पैसे से चलने वाली दुनिया की सबसे बड़ी योजना :PM मोदी

‘आयुष्मान भारत’ , सरकारी पैसे से चलने वाली दुनिया की सबसे बड़ी योजना :PM मोदी

Spread the love

‘आयुष्मान भारत’ , सरकारी पैसे से चलने वाली दुनिया की सबसे बड़ी योजना :PM मोदी

The Prime Minister, Shri Narendra Modi launched the Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY), at Ranchi, in Jharkhand on September 23, 2018.

रांची: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दुनिया के सबसे बड़े सरकारी की मदद से चलने वाले हेल्थ केयर कार्यक्रम आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat) का शुभारंभ किया. आयुष्मान भारत योजना से करीब 50 करोड़ भारतीय लाभान्वित होंगे.

पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से आयुष्मान भारत योजना के लॉन्चिंग की घोषणा की थी. इस महत्वाकांक्षी योजना का लक्ष्य प्रत्येक परिवार को सालाना पांच लाख रुपये से 10 करोड़ रुपये तक की कवरेज प्रदान करना है.

इससे 10.74 करोड़ गरीब परिवार लाभान्वित होंगे. इन परिवारों के लोग द्वितीयक और तृतीयक श्रेणी के तहत पैनल के अस्पतालों में जरूरत के हिसाब से भर्ती हो सकते हैं. वैसे इस योजना का नाम बदलकर प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान कर दिया गया है. यह योजना लाभार्थियों को नकदी रहित स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराएगी.

The PM Modi launching the Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY), at Ranchi, in Jharkhand on September 23, 2018.
The Governor of Jharkhand, Smt. Droupadi Murmu, the Union Minister for Health & Family Welfare, Shri J.P. Nadda, the Chief Minister of Jharkhand, Shri Raghubar Das, Minister of State for Tribal Affairs, Shri Sudarshan Bhagat and other dignitaries are also seen.

इससे अस्पताल में भर्ती होने पर आने वाले खर्च में कमी आएगी जो लोगों को और निर्धन बना देता है. इससे भयंकर स्वास्थ्य समस्याओं के दौरान उत्पन्न वित्तीय जोखिम कम होगा. पात्र लोग सरकारी और सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं.

 

आयुष्मान ” स्वास्थ्य परियोजना वास्तव में देश के लिए एक बड़ा और क़ीमती उपहार है ,इस योजना से मिलने वाले लाभ के बारे में सुनकर देश की जनता बड़ी चिंता से मानो मुक्त होगी है .जबकि देश की जनता इससे पहले भी कई बड़े वादों के पूरा होने का आजतक इंतज़ार कर रही है ,आज जब हमने आयुष्मान स्वास्थ्य योजना के बारे में जनता से जानना चाहा तो अधिकतर का यही जवाब था ” की सपने जो हमको २०१४ में दिखाए थे पहले उन्ही को पूरा करदिये होते तो इतनी बड़ी योजना का धरातल पर अमल में आना सपनो की दुनिया से भी परे दिखाई पड़ता है “

पीएम मोदी ने कहा कि सत्तर वर्षों में विपक्ष की अधिकतर सरकारों ने देश की गरीब जनता की आंखों में ‘गरीब हटाओ’ के नाम पर धूल झोंका जबकि मेरी सरकार आयुष्मान भारत जैसी योजनायें देश की गरीबी को सचमूच दूर करने के लिए लेकर आयी है .

The Prime Minister, Shri Narendra Modi visiting an exhibition on Ayushman Bharat, at Ranchi, in Jharkhand on September 23, 2018.
The Governor of Jharkhand, Smt. Droupadi Murmu and the Chief Minister of Jharkhand, Shri Raghubar Das are also seen.

मोदी ने आगे कहा कि सरकार देश के स्वास्थ्य क्षेत्र को सुधारने के लिए Holistic तरीके से कार्य कर रही है. एक तरफ सरकार Affordable Healthcare पर ध्यान दे रही है, तो साथ ही Preventive Healthcare पर भी जोर दिया जा रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि आज 10 वेलनेस सेंटर का शुभारंभ किया गया है. अब झारखंड में करीब 40 ऐसे सेंटर्स काम कर रहे हैं और देशभर में इनकी संख्या 2300 तक पहुंच चुकी है. अगले 4 वर्षों में देशभर में ऐसे डेढ़ लाख सेंटर्स तैयार करने का लक्ष्य है.

पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान से अभी तक देशभर के 13,000 से अधिक अस्पताल जुड़ चुके हैं. जो अस्पताल अच्छी सेवाएं देंगे, उन्हें सरकार द्वारा मदद भी दी जाएगी.भारत का ये मिशन सही मायने में एक भारत, सभी को एक तरह के उपचार की भावना को मज़बूत करता है.

जो राज्य इस योजना से जुड़े हैं, उनमें रहने वाले व्यक्ति किसी भी राज्य में जाएं, उन्हें इस योजना का लाभ मिलता रहेगा. आयुष्मान भारत योजना का लक्ष्य आर्थिक सुविधा का तो है ही, साल में ऐसी व्यवस्था भी खड़ी की जा रही है जिसमें आपके घर के पास ही इलाज की उत्तम सुविधा मिल जाए. आज 10 वेलनेस सेंटर का शुभारंभ किया गया है.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi visiting an exhibition on Ayushman Bharat, at Ranchi, in Jharkhand on September 23, 2018.

मोदी ने कहा कि 5 लाख तक का जो खर्च है उसमें अस्पताल में भर्ती होने के अलावा जरुरी जांच, दवाई, भर्ती से पहले का खर्च और इलाज पूरा होने तक का खर्च भी शामिल है. अगर किसी को पहले से कोई बीमारी है तो उस बीमारी का भी खर्च इस योजना द्वारा उठाया जाएगा.

पीएम मोदी ने कहा कि हेल्प लाइन नंबर 14555 पर आप जानकारी ले सकते हैं कि आपका इस योजना में नाम है या नहीं, आपको क्या लाभ मिल सकता है. देश में तीन कॉमन सर्विस सेंटर हैं. उन सभी जगह पर वह जानकारी ले सकते हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि ये योजना कितनी व्यापक है इसका अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि कैंसर, दिल की बीमारी, किडनी और लीवर की बीमारी, डायबटीज समेत 1300 से अधिक बीमारियों का इलाज शामिल है. इन गंभीर बीमारियों का इलाज सरकारी ही नहीं बल्कि अनेक प्राइवेट अस्पतालों में भी किया जा सकेगा.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi launching the Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY), at Ranchi, in Jharkhand on September 23, 2018.
The Governor of Jharkhand, Smt. Droupadi Murmu, the Union Minister for Health & Family Welfare, Shri J.P. Nadda, the Chief Minister of Jharkhand, Shri Raghubar Das, the Minister of State for Civil Aviation, Shri Jayant Sinha, the Minister of State for Tribal Affairs, Shri Sudarshan Bhagat and other dignitaries are also seen.

पीएम मोदी ने कहा कि गरीबी हटाओ के नारे आजादी के समय से ही सुन रहे हैं. गरीबों के आंख में धूल झोंकने वाले लोग अगर आज से तीस-पचास साल पहले लोग गरीबों के नाम पर राजनीति करने वाले अगर गरीबों को सशक्त करने का काम करते तो ऐसी हालत नहीं होती. उनकी गलतियों की वजह से देश को भुगतना पड़ रहा है.

वह सोचते हैं कि गरीब कुछ मांगते हैं. यह उनकी सोच है. गरीब जितना स्वाभिमानी होता है, शायद उस स्वाभिमान को नापने की आपके पास कोई तराजू नहीं. मैंने गरीबी को जिया है, गरीबी से निकला हूं. गरीबों के स्वाभिमान को भी जिया है. हर चुनाव में टुकड़े फेंको और राजनीतिक उल्लू सीधा करो, यही चलता है. देश गरीबी से मुक्ति की ओर बढ़ रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि देश में बेहतर इलाज सीमित लोगों तक न रहे. इसी भावना के साथ यह योजना देश को समर्पित कर रहा हूं. ताकि सबको बेहतर इलाज मिले. जब भारत के हेल्थ सेक्टर की बात होती है, तो कहा जाता है कि परिवार में कमाई का ज्यादा हिस्सा बीमारियों में खर्च हो जाता है. बीमारी इंसान को बदहाल कर देता है.

पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना से दो महापुरुषों का नाता जुड़ा है. अप्रैल में जब योजना के पहले चरण शुरु हुआ था तो उस दिन बाबा साहेब अंबेडकर का जन्मदिन था। अब इसी कड़ी में, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, दीन दयाल उपाध्याय जी के जन्मदिवस से दो दिन पहले शुरु हुई है.

पूरी दुनिया में सरकारी पैसे से इतनी बड़ी योजना किसी भी देश में नहीं चल रहा. इस योजना के लाभार्थियों की संख्या कल्पना नहीं कर सकते. पूरा यूरोपिय यूनियन, 27-28 देश, की जितनी आबादी है, उतने लोगों को यह भारत में आयुष्मान योजना का लाभ मिलेगा. पूरे अमेरिका की जनसंख्या, कनाडा और मैक्सिको देश की जनसंख्या मिला ले, तो उससे भी ज्यादा लोगों को इस योजना का लाभ मिलेगा.

 

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top
error

Enjoy our portal? Please spread the word :)