[]
Home » Events » वैश्विक नदियों व समुद्रों का जल अयोध्या राम मंदिर में अर्पित किया जायेगा
वैश्विक नदियों व समुद्रों का जल अयोध्या राम मंदिर में अर्पित किया जायेगा

वैश्विक नदियों व समुद्रों का जल अयोध्या राम मंदिर में अर्पित किया जायेगा

Spread the love
PRESS RELEASE

115 देशों व 7 महाद्वीपों का पवित्र जल अयोध्या राम मंदिर में अर्पण हेतु भारत पहुँचा: ऐतिहासिक

नई दिल्ली, 25 अगस्त 2021/Press Release:  डॉ. विजय जौली, अध्यक्ष दिल्ली स्टडी ग्रुप (प्रमुख सामाजिक-राजनीतिक-सांस्कृतिक गैर सरकारी संस्था) व पूर्व दिल्ली भाजपा विधायक के आह्वान पर 115 देशों व 7 महाद्वीपों का पवित्र जल अयोध्या राम मंदिर में अर्पण हेतु भारत पहुँचा है।

डॉ. जौली ने इस महान व वैश्विक अभियान का शुभारम्भ एक वर्ष पूर्व किया। इस महाअभियान के प्रेरणा स्रोत वयोवृद्ध भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी, विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष दिवंगत अशोक सिंघल व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रहे जिन्होंने 5 अगस्त 2020 को अयोध्या राम मंदिर की नींव रखी थी। दृढ़ इच्छा शक्ति व राम भक्ति में अटूट विश्वास के चलते, करोना महामारी भी, डॉ. जौली के संकल्प को पूरा होने से नहीं रोक पाई। वैश्विक नदियों व समुद्रों का जल अयोध्या राम मंदिर में अर्पित किया जायेगा।  

डॉ. जौली ने बताया कि जब लोग करोना काल में एक देश से दूसरे देश की यात्रा भी नहीं कर सकते थे। तब भगवान राम के आशीर्वाद से हम अपने ऐतिहासिक महाअभियान में सफल हुए।

डॉ. जौली ने कहा कि यह सिद्ध हो गया है कि मर्यादा पुरूषोत्तम प्रभु श्रीराम में न केवल अयोध्या के लोगों का विश्वास था अपितु अधुनिक युग में भी उनके आदर्शो के दुनियॉ भर में करोड़ो अनुयायी हैं।

स्कॉटलैण्ड से प्रथम जल प्रेषक आशीष ब्रहमभट्ट व तजीकिस्तान से दूसरे महानुभाव भारतीय मूल के ताज मोहम्मद रहे। प्रत्येक देश के जल को तॉबे के लोटो में पैक व सील, हरकी पौढ़ी हरिद्वार में किया गया। इसके पश्चात प्रत्येक राष्ट्र के नाम व ध्वज का रंगीन स्टीकर चिपका व भगवा रिब्बन लगाकर सजाया गया। विश्व भर से राम भक्तों द्वारा भर कर भेजे जल की वीडियो फिल्म दिखाई गई। जिसे दिल्ली स्टडी ग्रुप सोशल मीडिया संयोजक श्रीमती शालू कुमारी ने अथक मेहनत से संकलित किया।

राम मंदिर के गर्भगृह में अर्पण हेतु प्राप्त जल मुख्यतः ऑस्ट्रेलिया, अफगानिस्तान, भूटान, बांग्लादेश, कनाडा, चीन, कंबोडिया, क्यूबा, उत्तरी कोरिया, फिजी, फ्रांस, जर्मनी, गुयाना, हांगकांग, इटली, इंडोनेशिया, आयरलैण्ड, इजराइल, आइसलैंड, भारत, जापान, केन्या, लाइबेरिया, मलेशिया, मकाऊ, मॉरीशस, मोंटेनेग्रो, म्यांमार, मंगोलिया, मोरक्को, मालदीव, न्यूजीलैंड, नाइजीरिया, नेपाल, नॉर्वे, ओमान, पाकिस्तान, पपुआ न्यू गिनी, रूस, रोमानिया, दक्षिण कोरिया, श्रीलंका, सऊदी अरब, सूरीनाम, दक्षिण अफ्रीका, ताजिकिस्तान, थाईलैंड, तिब्बत, ताइवान, त्रिनिदाद और टोबैगो, संयुक्त अरब अमीरात, यूनाइटेड किंगडम, अमेरिका, यूक्रेन, उज्बेकिस्तान, युगांडा, वियतनाम व जिम्बाब्वे इत्यादि 115 देशों में से प्रमुख रहे। बाद में  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा उनके आवास 17 अशोक रोड, नई दिल्ली पर धार्मिक पूजा संपन्न होगी। तथा उसके उपरांत अयोध्या में जाकर राम मंदिर के गर्भ गृह में जल कलशों को अर्पित किया जायेगा।

  ======================

(Press Conference by DR. VIJAY JOLLY, President Delhi Study Group)
 
115 Nations & 7 Continents River & Ocean
Water for Ayodhya Ram Mandir : Historical


 New Delhi, 25th Aug 2021: Delhi Study Group (prominent socio-political-cultural NGO) led by President Dr. Vijay Jolly, Ex-Delhi BJP MLA successfully procured pure river & ocean water of 115 nations from 7 continents of the world for Ayodhya Ram Mandir in India.    
 
Dr. Jolly embarked on this noble & global mission one year ago He drew inspiration from octogenarian BJP Leader L.K. Advani, Late VHP International President Ashok Singhal & Prime Minister Narendra Modi who laid the foundation for Ayodhya Ram Mandir on 5th August 2020. Even the worst times of Corona could not deter Dr. Jolly in his firm determination from procuring global river & ocean waters to be poured in the main sanctum of Ram temple with prayers.
 
When people could not travel from one nation to another in corona times, we with blessings of Lord Ram, succeeded in our historical mission of faith & belief stated Dr. Jolly. Maryada Purushottam Lord Shree Ram was not only revered by citizens of Ayodhya but by millions of worshippers across the world in modern times claimed Dr. Vijay Jolly.
 
The first responder during this global mission, across religious lines was Ashish Brahmbhatt from Scotland & second Taj Mohammed from Tajikistan. Individual water of each nation were packed, sealed in copper metal pots & affixed colored stickers with name & flag of each nation at Harki Pauri, Haridwar. A short video film on Lord Ram worshipers globally procuring & sending pure water of their nations to India was compiled by DSG social media Convener Smt. Shalu Kumari. This short movie was exhibited at the press conference.
 
Of the 115 nations, pure water of prominent nations received is from Australia, Afghanistan, Bhutan, Bangladesh, Canada, China, Cambodia, Cuba, DPR Korea, Fiji, France, Germany, Guyana, Hong Kong, Italy, Indonesia, Ireland, Israel, Iceland, India, Japan, Kenya, Liberia, Malaysia, Macau, Mauritius, Montenegro, Myanmar, Mongolia, Morocco, Maldives, New Zealand, Nigeria, Nepal, Norway, Oman, Pakistan, PNG, Russia, Romania, South Korea, Sri Lanka, Saudi Arabia, Suriname, South Africa, Tajikistan, Thailand, Tibet, Taiwan, Trinidad & Tobago, United Arab Emirates, United Kingdom, USA, Ukraine, Uzbekistan, Uganda, Vietnam & Zimbabwe etc. Later a religious pooja shall be performed by Defence Minister Rajnath Singh at his residence 17 Ashok Road, New Delhi. And thereafter proceed for Ayodhya.
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top
error

Enjoy our portal? Please spread the word :)