[t4b-ticker]
Home » Editorial & Articles » सावधान इंडिया , अन्ना दिल्ली अा चुके हैं 

सावधान इंडिया , अन्ना दिल्ली अा चुके हैं 

Spread the love

Mumtaz khan

TV anchor

दोस्तों चार साल देश के सारे हालातों को खामोशी से तमाशबीन बनकर देखने के बाद आज हमारे दुसरे गांधी यानी अन्ना दूबारा रामलीला मेदान अा चुके है !उनके अन्दर के गांधी ने फिर से करवट ली है !

चुनाव के आखरी साल में उनको किसानो की ,लोकपाल की ,काले धन की याद अा गई है !यों कहे की उनका देश प्रेम फिर जाग गया है !लेकिन वो दिल्ली आये नहीं है बल्की उनको लाया गया है !लेकिन सवाल ये है उनको ठीक चुनाव से पहले ही किसानो की लोकपाल की याद क्यो आई है !

जब किसानो को राष्ट्रपतीभवन के सामने नंगा होने को मजबूर होना पडा था वो तब कहाँ सोये हूए थे ,जब किसान पेशाब पीने को मजबूर हुआ था तब उनके अन्दर का गांधी कहाँ चला गया था ,जब किसान घास की रोटी खाने को मजबूर हो गया था तब वो कहाँ थे ,जब mp में किसानो को गोलियों से छन्नी किया गया तब उनको नींद कैसे अा गई ,जब उनके सामने किसानो की आत्महत्या को फेशन बताया गया तब वो कहाँ थे ,जब किसानो को हराम खोर बताया गया और कहा गया की ये स्बसीडी के माल को खाने के लिए सड़को पर है ,जब किसानो को मुआवजे के नाम पर 5-5 रूपयेके चेक दिये गये ,औरजब माहाराष्ट्र के 40000 किसान सड़को पर ऊतरे और उनके पेरों के छालो को आप z security के बीच बेठे देखते रहै !

क्यो आप रालेगण सिद्धी में बेठकर आप सिर्फ बीजेपी को सबसे जहरीली और अंग्रेजो से बुरी सरकार बताते रहै !क्यो आपसे रामलीला मेदान इतनी दूर हो गया वो भी तब जब आपकी हर हवाई य़ात्रा फ्री है !क्यो आप इन चार सालों में कोई बड़ा आंदोलन नहीं खडा कर पाये !

आप सिर्फ केजरीवाल को क्यो कोसते ,अगर केजरीवाल ने धोखा दिया था तो किरन बेदी और vk सिंह ने कौन सी वफा कर दी आपने एक बार भी क्यो उन्हे नहीं कोसा !योगेन्द्र तो आपके पद चिन्हो पर थे आपने क्यो उनका साथ नहीं दिया ,जब आप को पता है की देश का किसान जाग उठा है उसे अब किसी अन्ना की ज़रूरत नहीं है तो आपको लगा कही मेरी रहबरी ना छीन जाये!

जब आप 2जी ने आपको इतना बड़ा आंदोलन खडा करने को कांग्रेस के खिलाफ मजबूर कर दिया था तो अब जब उसकी सच्चाई सामने अा ही चुकी है की ये सब विनोद राय से कराया गया था तो इस झूठ के खिलाफ फिर से इतना बड़ा आंदोलन करने से आपको कोन सी ताकत ने रोके रखा देश जानना चाहता है !आप तो सेना में रहै थे ना फिर रात दिन वो नापाक पाकिस्तान हमारे जवानो को मार रहा है और ये सरकार एक surgical strike को ही 400 जवानो की शाहदत का जवाब बताते नहीं थक रही है फिरभी आपका गांधी नहीं जगा आखिर क्यो !

जब वहेसल ब्लॉवेर कानून को चार साल में एक बार भी notify नहीं किया गया और जब मोदी सरकार prevention of corruption को खत्म करने के लिए मोदी सरकार एक amendment लाई तब आपके अंदर का गांधी कहाँ सोया हुआ था !अगर अन्ना जी जेसा माहोल 2महीने पहले था देश का, जब लग रहा था की मोदी जी के पक्ष में एक तरफा चुनाव होगा तब आपको कभी नहीं लाया जाता लेकिन अब समिकरण बदले है और लग रहा है की 2019 का फिनाले बड़ा दिलचस्प होगा इसलिय लाया गया है आपको !

क्योंकि आपसेऔर आपके आंदोलन के ज़रिये लोकपाल का माहोल दूबारा बनवाया जायेगा पूरे हिंदुस्तान में!और दुसरी तरफ supreme court का ढंडा केन्द्र सरकार पर है लोकपाल के लिए !sc दो बार फटकार मोदी सरकार को लगा चुका है !यहा तक की SC ने केन्द्र को धमकी दी है कि वो उनके खिलाफ contempt of court यानी अवमानना का notice जारी करेगी !इसलिय बीजेपी पहले आपसे लोकपाल का माहोल बनवायेगी फिर जब माहोल गर्म हो जायेगा तब लोकपाल की नियुक्ती करके पूरे देश में credit लेगी !

यानी आपका पहला आंदोलन भी किसी एक दल के लिए था और अब दूबारा आपको जो रामलीला का रास्ता दिखाया गया है वो भी उसी दल को फायदा पहूँचाने के लिए है!लेकिन दोस्तों जोये लोकपाल बनेगा अगर बना तो ,ये बहुत ही कमज़ोर होगा क्योंकि इसमें विपक्ष को एक invitee के तोर पर बुलाया जायेगा ना की विपक्ष के नेता के तोर पर !ऐसी condition में मोदी जी जिनको चाहेंगे लोकपाल नियुक्त करेंगे नेता विपक्ष कोई ऊंगली नहीं उठा सकेगा !

क्योंकि उसके लिए 55 mp विपक्ष के होने ज़रूरी है ! ऐसे हालात में मोदी जी किसी दागी को नियुक्त कर सकते है जेसे cbi director ,chief central vigilance comissioner ,chief justice को ,cag के प्रमुख को किया था !जय हिन्द !

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top
error

Enjoy our portal? Please spread the word :)