Home » News » National News » रविवार बीजेपी के लिए काफी निराशाजनक रहा ,पंजाब और केरल के मध्यवर्ती चुनाव में बुरी तरह हार का सामना
रविवार बीजेपी के लिए काफी निराशाजनक रहा ,पंजाब और केरल के मध्यवर्ती चुनाव में बुरी तरह हार का सामना

रविवार बीजेपी के लिए काफी निराशाजनक रहा ,पंजाब और केरल के मध्यवर्ती चुनाव में बुरी तरह हार का सामना

UP इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्र संगठन के चुनाव में ABVP का सूपड़ा साफ़   

मुकेश यादव /Top Bureau

पंजाब के गुरदासपुर लोक सभा मध्यवर्ती चुनाव में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखडे ने बीजेपी और शिरोमणि अकाली दल संयुक्त मोर्चा के स्वर्ण सलारिया को 90 हज़ार से ज़्यादा वोटों से हराकर जीत हासिल की है , गुरदासपुर से बीजेपी के टिकट पर लगातार 4 बार सांसद रहे विनोद खन्ना की मृत्यु के बाद यह सीट खाली हुई थी ,  इसके बाद कांग्रेस पार्टी के कार्यालयों में जश्न का माहौल रहा वहीँ बीजेपी के जत्थे में मायूसी छाई रही .इस दौरान पंजाब के मुख्यमंत्री कप्तान अमरेंदर सिंह ने गुरदासपुर की जनता का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि यह जीत कांग्रेस के नए आयामों को जन्म देगी और राहुल गाँधी के प्रधान मंत्री बनने की राह में मील का पत्थर साबित होगी ।

इसी के साथ केरल के वियंगारा विधान सभा के मध्यवर्ती चुनाव में इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के एन ए क़ादिर को भारी मतों से विजय हासिल हुई उन्होंने कुल 65227 वोट लेकर अपने प्रतिद्वेंदि CPIM के Adv. पी पी बशीर को 23310 वोटों से हरा दिया .मुख्य बात यह रही की BJP के प्रत्याशी जीना चंद्रन को  SDPI प्रत्याशी के सी नासिर से भी कम वोट मिले , दोनों को क्रमशे 5728 और 8648 वोट मिले ।

यूँ तो पूरे देश में ही युवा और छात्रों का देश की राजनीति में एहम किरदार होता है परन्तु उत्तर प्रदेश की राजनीति में इसका ख़ास महत्व है ,हाल ही में UP के इलाहबाद यूनिवर्सिटी (AU) छात्र संघ चुनाव में BJP के दिग्गजों की मौजूदगी के बावजूद ABVP का सूपड़ा साफ़ होगया और समाजवादी छात्र सभा के अवनीश यादव अध्यक्ष पद के लिए चुने गए उनके साथ उनका पूरा पैनल एबीवीपी को मात देकर विजई हुआ ।

यहाँ  बता दें कि टीडी कॉलेज बलिया के सभी पदों में समाजवादी छात्र सभा ने कब्जा जमा लिया है . रामजीत यादव अध्यक्ष चुने गए  सीएमपी डिग्री कॉलेज में रिशब यादव अपने एबीवीपी प्रतिद्वंदी को हराकर विजई हुए इन सभी छात्र चुनाव को उत्तर प्रदेश की राजनीति में अलग रूप से देखा जा रहा है इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय का चुनाव एक आम चुनाव नहीं होता बल्कि यहां प्रदेश के एवं केंद्र के बड़े-बड़े दिग्गज नेता अपनी साख दांव पर लगा देते हैं

इलाहबाद ुनिवर्सिटी  छात्र संगठन चुनाव  में उन्नाव से एमएलसी सुनील साजन समेत भाजपा के कई केंद्रीय मंत्री एवं दिग्गज ABVP के समर्थन में डटे रहें , परंतु तनावपूर्ण माहौल , गोलीबारी एवं बम बारूद के बीच परिणाम समाजवादी पार्टी छात्र सभा के हित में आया .समाचार है की की इस चुनाव में में UP के  Dy. CM ने भी पूरा ज़ोर लगाया पर मुंह की खानी पड़ी . प्रदेश में युवाओं एवं छात्रों के इस विजय से होने वाले आगामी चुनाव में एक नया मोड़ आने की संभावना है समाजवादी छात्र सभा के नेता सैयद आबिद ने बताया कि हमें चुनाव के वक्त प्रशासन द्वारा सताया गया परंतु जीत समाजवादी छात्र सभा की हुई और इसको छात्र हितों की विजय कहा जारहा है , जबकि इसका अनुभव करना अभी बाक़ी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top