Home » Events » भेद भाव के खिलाफ हम सब एक हैं,मकर संक्रांति पर सबने साथ खायी खिचड़ी

भेद भाव के खिलाफ हम सब एक हैं,मकर संक्रांति पर सबने साथ खायी खिचड़ी

 

लखनऊ 14 जनवरी 2018. मकर संक्रांति के अवसर पर इंसानी बिरादरी, शोल्डर टू शोल्डर, आवाम मूवमेंट और मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी ने लखनऊ के इंदिरा नगर सेक्टर सी में सबके साथ खिचड़ी का आयोजन किया. इंदिरानगर, मुंशी पुलिया व आस-पास के क्षेत्र वासियों समेत विभिन्न सामजिक-राजनीतिक संगठनों के लोगों ने एक साथ बैठकर खिचड़ी खाई.

इस सामाजिक और धार्मिक सोहाद्र के माहौल में शामिल लोगो ने कहा कि पूरे दुनिया में भारतीय समाज अनेकता में एकता की सभ्यता के लिए जाना जाता है. सभी समुदाय के लोग एक-दूसरे के साथ हमेशा सुख-दुःख में खड़े रहे हैं लेकिन लगातार समुदायों के बीच मतभेद और नफरत को बढ़ाने की राजनीती ने हमारे खूसूरत समाज के ताने बाने को तार तार करदिया है . इसलिए जरुरी है कि समाज में सभी धर्मों और ज़ातों के बीच आत्मीय सम्बन्ध अच्छे हों .

खान-पान के नाम पर घृणा फैलाकर इन्सान को इन्सान के खिलाफ खड़ा किया जा रहा है. जबकि मुल्क में भुखमरी हैं. इस छोटे और भवव्य प्रोग्राम में सभी धर्मों और वर्गों ने मिलजुलकर खिचड़ी खाई हुए यह सन्देश दिया की खान-पान के नाम पर हम सब एक जुट होकर गैरबराबरी और भेद भाव के खिलाफ हैं.और नफरत फैलाने वालों को मुंह तोड़ जवाब देंगे .

कार्यक्रम में शामिल लोगों ने खिचड़ी के बारे में कहा कि खिचड़ी श्रमिकों और मजदूर-किसानों का त्यौहार रहा है लेकिन पूरे देश में किसान और मजदूरों की स्थिति ख़राब है. भूख से लोगों की मौत हो रही है. एक समाज बतौर यह शर्मनाक बात है हम सबको इसके खिलाफ खड़े होने की जरुरत है.

कार्यक्रम में मौलाना कल्बे सादिक, रिहाई मंच अध्यक्ष मुहम्मद शोएब, जस्टिस एस सी वर्मा ,मुहम्मद अली रिज़वी, सृजनयोगी आदियोग, रणधीर सिंह सुमन, लक्ष्मण प्रसाद, शाहनवाज़ आलम, सतेयेंद्र कुमार, रिफत फातिमा, असगर मेहदी, अतहर हुसैन, राशिद, तारिक दुर्रानी, धर्मेंन्द, लालजीत अहीर, त्रिलोचन, डाक्टर मंजूर, अलोक मिश्र, युसरा हुसैन नकवी, राबिन, शम्स तबरेज़, शबरोज मोहम्द्दी, अजय शर्मा, नूर आलम, जिया, शिरीष, अमित, इमरान अंसारी, हीरालाल यादव, आकिल, लाल जीत अहीर, राधे यादव, सचिन गुप्ता, संयोग वाल्टर, मनोज, ए बी सोलोमन, भूपेंद्र सिंह, प्रबुद्ध गौतम, संघलाता, अरु, ऋषि सिंह, देवना जोशी और अनिल यादव मौजूद थे.

वीरेन्द्र गुप्ता
8960087282

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Scroll To Top